Hindi Kahani | हिंदी कहानी- ” नादानी “

Hello Friends! Today’s we are sharing the Interesting Hindi Kahani that’s title is “नादानी”. Guys, It’s a very Interesting Moral Stories written in Hindi. Friends! Here a lot of collection of Hindi Stories. We are sharing Everyday a New Moral Story in Hindi for Kids and Everyone. Below we Shared our Today’s Hindi Kahani. We hope you will like this story, share, and Subscribe to our Website.

A Bird on Hand of boy- Hindi Kahani that's name is "नादानी"


मित्रों! यह एक ऐसा Website है, जहां हम रोज Hindi Kahani बच्चों के लिए Share करते हैं
! जो व्यक्ति को एक नैतिक सीख देती है और जीने की कला सिखाती है|

दोस्तों इसमें प्रेषित सभी Moral Stories पाश्चात्य काल के किसी न किसी दैनिक जीवन में घटित घटना से संबंधित है! या फिर लोगों द्वारा कथित तौर पर कही गई है| जो आज निश्चित तौर पर हमारे दैनिक जीवन में घटित होती है!

So Friends! Today’s our

INTERESTING MORAL STORY

” नादानी “

 एक व्यक्ति के बारे में यह प्रसिद्ध था, कि वह वस्तु वह बहुत बड़े विद्वान हैं| संत है, ज्ञानी है, संसार का कोई ऐसा प्रश्न नहीं है जिसका कि उसके पास उत्तर नहीं है| वह संत एक ऊंची सी इमारत में सबसे ऊपर रहते थे| उन्हें वास्तव में ज्ञान था साधना और सिद्धि थी|

a Saint on aasan mudras. This is the pic of a Hindi Kahani That's Title is " नादानी "

एक बार दो चतुर लड़कों ने उनकी परीक्षा लेने की योजना बनाएं| उन्होंने तय किया कि आज तो अवश्य ही उस बूढ़े को मूर्ख बनाया जाए| देखते हैं हमारे आगे इसका क्या ज्ञान चलता है| ऐसा सोचकर वह दोनों उस इमारत के पास गए एक ने अपने हाथ में एक छोटी सी चिड़िया पकड़ी थी|

A Man hold a bird on hand.Hindi Kahani-" नादानी "

Interesting Hindi kahani


उसने चिड़िया को अपने दोनों हाथों की हथेलियों के अंदर बंद कर रखा था| संत के पास पहुंचते ही लड़कों ने आवाज लगाई और कहा: “महाराज मेरे हाथों में एक चिड़िया है| आप यह बताएं कि वह जिंदा है या मृत|”

संत समझ गए ये दोनों चतुराई समझ कर नादानी कर रहे हैं|

उन्होंने कहा: ” यदि मैं कहता हूं कि वह चिड़िया जिंदा है तो तू अपने हाथों को दबाकर उसे मार दोगे|और यदि मैं यह कहता हूं कि वह मर चूका है तो तुम दोनों हाथ खोल दोगे और चिड़िया उड़ जाएगी| इसीलिए तुम्हारे हाथों में केवल चिड़िया नहीं है, तुम्हारे हाथों में जीवन और मृत्यु की शक्ति भी है| “

A Green Bird sitting on the man Middle Finger.

अतः आप स्वयं सोचिए कि आपके ही हाथों में सफलता की कुंजी भी है और असफलता का लेख भी है| और आपके ही हाथों में सफलता की उदभव शक्ति भी है|

यह आप पर निर्भर करता है कि आप उस शक्ति का प्रयोग किस प्रकार करते हैं|

Moral:

  • चतुराई करना उचित नही|
  • किसी भी व्यक्ति के हाथ में जीवन और मृत्यु दोनों निहित हैं| अगर आप जीना चाहते हो तो खुद को हर चोट से बचाओगे, और अगर नही तो मरने वाले आत्महत्या भी कर लेते हैं|
  • आपके ही हाथों में सफलता की कुंजी भी है और असफलता का लेख (लकीरे) भी है| और आपके ही हाथों में सफलता की उदभव शक्ति भी है| एक बात कहना चाहूँगा दोस्तों ” यू ही नही होती हाथ की लकीरों के सामने उँगलियाँ, रब ने भी किस्मत के आगे मेहनत लिखी हैं|”

धन्यवाद!

मित्रो आज की हमारी स्टोरी “नादानी” कैसे लगी और आपने क्या सिखा हमें comment में जरूर बताये! यदि आपके पास भी ऐसी ही Interesting Moral Stories हैं तो आप हमें Gmail में जरुर भेजे उसे आपके फोटो और नाम से साथ हमारे Website के द्वारा लोगो तक पहुचाएंगे|

Gmail Id:- shareknowledge98@gmail.com

और दोस्तों इस तरह के शॉर्ट रोचक स्टोरी पढ़ने के लिए हमारे Website:- www.thoughtsguruji.comके साथ जुड़े रहिए |इसे अपने अपनों को भी पढ़ाइए,बताइए और सुनाइए |

Leave a Reply

Your email address will not be published.