Lord Krishna Mahabharata Motivational Quotes in Hindi | Bhagavad Gita Quotes

Here we have shared Lord Krishna’s Best Mahabharata Motivational Quotes in Hindi. If you are searching then this is the correct place for you. Here a lot of collection of the Mahabharat Quotes in Hindi and Bhagavad Gita Quotes in Hindi. We have designed all the images published here in a very beautiful way for you. We hope you will like it all.

नमस्कार मित्रो! इस पोस्ट में हम ने आपके लिए श्री कृष्ण द्वारा कथित महाभारत शायरी व महर्षि वेदव्यास जी द्वारा रचित श्रीमद भगवद गीता कोट्स आपसे साझा किया हैं। यहाँ प्रस्तुत सभी सुविचार बहुत ही प्रेरणादायक हैं जो जीवन के गहन अर्थ को व्यक्त करती हैं। महाभारत कथा अपने आप में एक पूर्ण ग्रंथ हैं जो व्यक्ति को विकट परिस्थितियों में सही मार्ग प्रदान करती हैं। चाहे आप जीवन के किसी भी पढ़ाव में फसे ही हुएं क्यों ना हो यह महाभारत आपको यहाँ से तार सकती हैं।

यहाँ हम ने Mahabharat Quotes in Hindi, , Mahabharata Quotes, Bhagavad Gita Quotes in Hindi, Lord Krishna Mahabharata Quotes, Vyas Quotes in Hindi, महाभारत शायरी, महाभारत सुविचार, महाभारत कोट्स, महाभारत स्टेटस, भगवद गीता कोट्सMahabharat Krishna Quotes Images के साथ आप से साझा किया हैं। उम्मीद हैं यहाँ प्रेषित सभी प्रेरणादायक सुविचार आपको पसंद आएगी।

Lord-Krishna-Mahabharat-Motivational-Quotes-in-Hindi
Mahabharata Quotes in Hindi

Mahabharat Motivational Quotes in Hindi

IMPORTANT INSTRUCTION: इस पोस्ट में पब्लिश सभी इमेजेज पूरी तरह कॉपीराइट नियमों से सुरक्षित हैं कृपया यहाँ से किसी भी इमेजेज को अपने वेबसाइट में पब्लिश करने की कोशिश न करे, यह गूगल के और इस वेबसाइट के पालिसी के खिलाप हैं।

आप यहाँ उपस्थित सभी इमेजेज को अपने सोशल मीडिया प्लेट फॉर्म के लिए उपयोग कर सकते हैं उसके लिए किसी भी तरह का बाध्य नही हैं लेकिन कृपया वेबसाइट के टैग, या LOGO को एडिट कर या डिलीट कर कही भी शेयर न करे यह एक दंडनीय अपराध हैं इसके लिए गूगल आपको पेनल्टी भी दे सकता हैं। THANK YOU!

©thoughtsguruji.com


सदैव संदेह करने वाले व्यक्ति के लिए

प्रसन्नता ना इस लोक में है ना ही कहीं और।

Mahabharat Motivational Quotes in Hindi

जो मन को नियंत्रित नहीं करते

उनके लिए वह शत्रु के समान कार्य करता है


व्यक्ति जो चाहे बन सकता है

यदि वह विश्वास के साथ इच्छित वस्तु पर

लगातार चिंतन करे।


किसी और का काम

पूर्णता से करने से कहीं अच्छा है कि

अपना काम करें,

भले ही उसे अपूर्णता से करना पड़े।


किसी के प्रति मन मे क्रोध रखने की अपेक्षा

उसे तत्काल प्रकट कर देना

अधिक अच्छा है, जैसे पल मे जल जाना

देर तक सुलगने से अच्छा है।

Mahabharat Quotes in Hindi

लोग आपके अपमान के बारे में

हमेशा बात करेंगे

सम्मानित व्यक्ति के लिए अपमान

मृत्यु से भी बदतर है


मन अशांत है और उसे नियंत्रित करना कठिन है,

लेकिन अभ्यास से इसे वश में किया जा सकता है

1.दूसरों से घृणा करने वाले

2.दूसरों से ईर्ष्या करने वाले

3.असंतोषी

4.क्रोधी

5.सभी बातों में शंका करने वाले

6.और दूसरे के धन से जीविका निर्वाह करने वाले

ये छहों सदा दुखी रहते हैं

महाभारत शायरी

जो कार्य में निष्क्रियता और निष्क्रियता में कार्य देखता है

वह एक बुद्धिमान व्यक्ति है।

सदाचार से धर्म उत्पन्न होता है तथा

धर्म से आयु बढ़ती है।

मनुष्य अपने विश्वास से निर्मित होता है

जैसा वो विश्वास करता है वैसा वो बन जाता है

Mahabharata Quotes in Hindi
Mahabharata Quotes in Hindi

स्वार्थ की अनुकूलता और प्रतिकूलता से ही

मित्र और शत्रु बना करते हैं।


मनुष्य जीवन की सफलता इसी में है

कि वह उपकारी के उपकार को कभी न भूले

उसके उपकार से बढ़कर

उस उपकारी व्यक्ति का उपकार कर दे।

बुद्धिमान व्यक्ति को समाज कल्याण के लिए

बिना आसक्ति के काम करना चाहिए

नर्क के तीन द्वार हैं –

वासना, क्रोध और लालच

Mahabharata Quotes in Hindi


बैर के कारण उत्पन होने वाली आग

एक पक्ष को स्वाहा किए बिना कभी शांत नहीं होती।

Bhagavad Gita Quotes in Hindi

जुआ खेलना अत्यंत निष्कृष्ट कर्म है

यह मनुष्य को समाज से गिरा देता है

Lord Krishna Mahabharat Quotes
Bhagavad Gita Quotes in Hindi

कर्म योग वास्तव में एक परम रहस्य है

केवल मन ही किसी का मित्र और शत्रु होता है

आत्म -ज्ञान की तलवार से काटकर

अपने ह्रदय से

अज्ञान के संदेह को अलग कर दो

अनुशाषित रहो, उठो


जैसे तेल समाप्त हो जाने पर

दीपक बुझ जाता है,

उसी प्रकार कर्म के क्षीण हो जाने पर

भाग्य भी नष्ट हो जाता है।

Mahabharata Quotes in Hindi
Bhagavad Gita Quotes in Hindi

इस जीवन में ना कुछ खोता है,

ना व्यर्थ होता है

उससे मत डरो जो वास्तविक नहीं है,

ना कभी था ना कभी होगा

जो वास्तविक है, वो हमेशा था और उसे

कभी नष्ट नहीं किया जा सकता

Mahabharata Quotes in Hindi

निर्माण केवल पहले से मौजूद

चीजों का प्रक्षेपण है


जैसे जल द्वारा अग्नि को शांत किया जाता है

वैसे ही ज्ञान के द्वारा मन को शांत रखना चाहिए।

Mahabharat Motivational Quotes in Hindi
Mahabharata Quotes in Hindi

जिस राजा की प्रजा हमेशा, कर के भार से पीड़ित रहे,

प्रतिदिन दुखी रहे और जिसे तरह -तरह के अनर्थ झेलने पड़ते हैं,

उस राजा की हमेशा पराजय होती है

सच्चा धर्म यह है कि

जिन बातों को इन्सान अपने लिए

अच्छा नहीं समझता

दूसरों के लिए भी न करे


संसार में ऐसा कोई नहीं हुआ है

जो मनुष्य की आशाओं का पेट भर सके।

पुरुष की आशा समुद्र के

समान है, वह कभी भरती ही नहीं।

Mahabharat Krishna Quotes
Mahabharata Quotes in Hindi

मैं सभी प्राणियों को सामान रूप से देखता हूँ

ना कोई मुझे कम प्रिय है ना अधिक.

लेकिन जो मेरी प्रेमपूर्वक आराधना करते हैं वो मेरे भीतर रहते हैं

और मैं उनके जीवन में आता हूँ

गीता कोट्स हिंदी


वह जो सभी इच्छाएं त्याग देता है,

“मैं ” और “मेरा ” की

लालसा और भावना से मुक्त हो जाता है

उसे ही शांती प्राप्त होती है

Bhagavad Gita Quotes in Hindi

प्रबुद्ध व्यक्ति के लिए –

गंदगी का ढेर, पत्थर, और सोना सभी समान हैं

केवल मन ही

किसी का मित्र और शत्रु होता है

कर्म उसे नहीं बांधता

जिसने काम का त्याग कर दिया है

तुम उसके लिए शोक करते हो जो शोक करने के योग्य नहीं हैं,

और फिर भी ज्ञान की बाते करते हो.

बुद्धिमान व्यक्ति ना जीवित और ना ही मृत

व्यक्ति के लिए शोक करते हैं।

Bhagavad Gita Quotes in Hindi

अशांत को सुख कैसे मिल सकता है.

सुखी रहने के लिए शान्ति बहुत जरुरी है

नारी वह धुरी है,

जिसके चारों ओर परिवार घूमता है

Lord Krishna Mahabharat Quotes

जिस परिवार व राष्ट्र में स्त्रियों का सम्मान नहीं होता,

वह पतन व विनाश के गर्त में लीन हो जाता है

Mahabharata Quotes in Hindi

दूसरो के लिए भी वही चाहो

जो तुम अपने लिए चाहते हो

जो वेद और शास्त्र के ग्रंथों को

याद रखने में तत्पर है

किन्तु उनके यथार्थ तत्व को नहीं समझता,

उसका वह याद रखना व्यर्थ है।

परोपकार सबसे बड़ा पुण्य और परपीड़ा

यानि दूसरों को कष्ट देना सबसे बड़ा पाप है

Mahabharat Quotes in Hindi

चतुर मित्र सबसे श्रेष्ठ व मार्ग -प्रदर्शक होता है

जो मनुष्य अपनी निंदा सह लेता है,

उसने मानो सारे जगत पर विजय प्राप्त कर ली

मन का दुख मिट जाने पर

शरीर का दुख भी मिट जाता है।

Mahabharat Krishna Quotes in Hindi

स्वार्थ बड़ा बलवान है। इसी कारण

कभी -कभी मित्र शत्रु बन जाता है और शत्रु मित्र।

मधुर शब्दों में कही हुई बात अनेक प्रकार से

कल्याण करती है,

किंतु यही यदि कटु शब्दों में कही जाए तो महान

अनर्थ का कारण बन जाती है।

मन से दुखों का चिंतन न करना ही

दुखों के निवारण की औषधि है।


जो मनुष्य जिसके साथ

जैसा व्यवहार करे

उसके साथ भी उसे वैसा व्यवहार

करना चाहिए, यह धर्म है।

प्राप्त हुए धन का उपयोग करने में

दो भूलें हुआ करती हैं, जिन्हें ध्यान में रखना चाहिए।

अपात्र को धन देना

और सुपात्र को धन न देना।

विवेकी पुरुष को अपने मन में यह विचार करना चाहिए कि

मैं कहां हूं, कहां जाऊंगा, मैं कौन हूं,

यहां किसलिए आया हूं और किसलिए किसका शोक करूं

Mahabharata Quotes in English

  • Neither in this world nor elsewhere is there any happiness in store for him who always doubts.
  • The mind acts like an enemy for those who do not control it.
  • Perform your obligatory duty, because action is indeed better than inaction.
  • Man is made by his belief. As he believes, so he is.
  • Hell has three gates: lust, anger, and greed.
  • There is nothing lost or wasted in this life.
  • The mind is restless and difficult to restrain, but it is subdued by practice.
  • The faith of each is in accordance with one’s own nature.
  • Unnatural work produces too much stress.
  • A Self-realized person does not depend on anybody except God for anything.

Mahabharat Quotes in Hindi

विजय की इच्छा रखने वाले शूरवीर

अपने बल और पराक्रम से वैसा विजय प्राप्त नही करते

जैसा कि सत्य, सज्जनता,

धर्म तथा उत्साह से प्राप्त करते हैं।


जो केवल दया से प्रेरित होकर सेवा करते है

उन्हें निःसंशय सुख की प्राप्ति होती है

Mahabharata Quotes
Mahabharata Quotes in Hindi

किसी का सहारा लिए बिना कोई ऊंचा नहीं चढ़ सकता,

अत: सबको किसी प्रधान आश्रय का सहारा लेना चाहिए।

विद्या, शूरवीरता, दक्षता, बल और धैर्य,

ये पांच मनुष्य के स्वाभाविक मित्र हैं।

बुद्धिमान लोग हमेशा इनके साथ रहते हैं।

उसी की बुद्धि स्थिर रह सकती है

जिसकी इंद्रियाँ उसके वश मेँ हो

बाणों से बिंधा हुआ तथा फरसे से कटा हुआ

वन भी अंकुरित हो जाता है,

किंतु कटु वचन कहकर वाणी से किया हुआ

भयानक घाव नहीं भरता।

Mahabharata Quotes in Hindi

दुख को दूर करने की एक ही अमोघ औषधि है –

मन से दुखों की चिंता न करना।

दुखों में जिसका मन उदास नहीं होता,

सुखों में जिसकी

आसक्ति नहीं होती तथा जो राग, भय व क्रोध

से रहित होता है, वही स्थितिप्रज्ञ है।

Mahabharat Krishna Images with Quotes

Mahabharata Quotes in Hindi
Mahabharata Quotes in Hindi
Mahabharata Quotes in Hindi
Mahabharata Quotes in Hindi
Mahabharata Quotes in Hindi

महाभारत कोट्स | Mahabharat Quotes

अपनी दृष्टि सरल रखो, कुटिल नहीं.

सत्य बोलो, असत्य नहीं.

दूरदर्शी बनो, अल्पदर्शी नहीं.

परम तत्व को देखने का प्रयास करो,

क्षुद्र वस्तुओं को नहीं

जिसने पहले तुम्हारा उपकार किया हो,

वह यदि बड़ा अपराध करे तो भी

उनके उपकार को याद करके उसका

अपराध क्षमा कर दो

संसार में वही मनुष्य प्रशंसा के योग्य है,

वही उत्तम है,

वही सत्पुरुष और वही धनी है,

जिसके यहाँ से याचक या शरणागत

निराश न लौटे

जैसे बिना नाविक की नाव जहाँ कहीं भी जल में बह जाती है

और बिना सारथी का रथ चाहे जहाँ भटक जाता है

उसी प्रकार सेनापति बिना सेना जहाँ चाहे भाग सकती है

नारी प्रकृति की बेटी है, उस पर क्रोध मत करो,

उसका हृदय कोमल है, उस पर विश्वास करो

व्यक्ति को अभिमान नहीं करना चाहिए

नहीं तो दुर्योधन जैसा हाल होगा

अपने पूर्वजों का सम्मान करना चाहिए

उनके बताए हुए मार्ग पर चलना चाहिए

उनके दिए उपदेशों का आचरण करना चाहिए

Lord Krishna Quotes in Hindi

मन, वचन और कर्म के द्वारा

मनुष्य के साथ अद्रोह,

सब पर कृपा और साधु पुरूषों को दान

यही सनातन धर्म है


कभी ऐसा समय नहीं था जब मैं, तुम,

या ये राजा-महाराजा

अस्तित्व में नहीं थे,

ना ही भविष्य में कभी ऐसा होगा कि हमारा

अस्तित्व समाप्त हो जाये

ज्ञानी व्यक्ति को कर्म के प्रतिफल की

अपेक्षा कर रहे

अज्ञानी व्यक्ति के दीमाग को

अस्थिर नहीं करना चाहिए


हर व्यक्ति का विश्वास उसकी प्रकृति के

अनुसार होता है.

अधिक बलवान तो वे ही होते हैं जिनके पास

बुद्धि बल होता है।

जिनमें केवल शारीरिक बल होता है,

वे वास्तविक बलवान नहीं होते।


जन्म लेने वाले के लिए मृत्यु उतनी ही निश्चित है

जितना कि मृत होने वाले के लिए जन्म लेना.

इसलिए जो अपरिहार्य है उस पर शोक मत करो

प्रबुद्ध व्यक्ति सिवाय ईश्वर के

किसी और पर निर्भर नहीं रहता

भगवान प्रत्येक वस्तु में है और सबके ऊपर भी

Gita Quotes in Hindi

स्वर्ग प्राप्त करने और वहां कई वर्षों तक

वास करने के पश्चात

एक असफल योगी का पुन : एक पवित्र और

समृद्ध कुटुंब में जन्म होता है

दो प्रकार के व्यक्ति संसार में स्वर्ग के भी ऊपर स्थिति होते हैं –

एक तो जो शक्तिशाली होकर क्षमा करता है और

दूसरा जो दरिद्र होकर भी कुछ दान करता रहता है

Bhagavad Gita Quotes in Hindi

अभीष्ट फल की प्राप्ति हो या न हो,

विद्वान पुरुष उसके लिए शोक नहीं करता।

अमृत और मृत्यु दोनों इस शरीर में ही स्थित हैं।

मनुष्य मोह से मृत्यु को और सत्य से अमृत को प्राप्त होता है।

Bhagavad Gita Quotes in Hindi

अत्यंत लोभी का धन तथा अधिक आसक्ति रखनेवाले का काम

ये दोनों ही धर्म को हानि पहुंचाते हैं।

अपनी प्रभुता के लिए चाहे जितने उपाय किए जाएं

परन्तु परिश्रम के बिना संसार में सब फीका है।

जो सज्जनता का अतिक्रमण करता है

उसकी आयु ,संपत्ति ,यश ,धर्म ,पुण्य, आशीष ,श्रेय नष्ट हो जाते है

Mahabharat Suvichar in Hindi | महाभारत सुविचार

जहां लुटेरो के चंगुल मे फंस जाने पर

झूठी शपथ खाने से छुटकारा मिलता हो,

वहां झूठ बोलना ही ठीक है।

ऐसे मे उसे ही सत्य समझना चाहिए।

जो विपत्ति पड़ने पर कभी दुखी नहीं होता,

बल्कि सावधानी के साथ

उद्यम का आश्रय लेता है

तथा समय आने पर दुख भी सह लेता है,

उसके शत्रु पराजित ही हैं।

आशा ही दुख की जननी है और

निराशा ही परम सुख शांति देने वाली है

लोभी मनुष्य किसी कार्य के दोषों को नहीं समझता,

वह लोभ और मोह से प्रवृत्त हो जाता है।

जो मनुष्य नाश होने वाले सब प्राणियों में

सम भाव से रहने वाले

अविनाशी परमेश्वर को देखता है,

वही सत्य को देखता है।

जो मनुष्य क्रोधी पर क्रोध नहीं, क्षमा करता है,

वह अपनी और क्रोध करने वाले की

महा संकट से रक्षा करता है।

वह दोनों का रोग दूर करने वाला चिकित्सक है।

राजधर्म एक नौका के समान है, यह नौका

धर्म रूपी समुद्र में स्थित है।

सतगुण ही नौका का संचालन करने वाला बल है,

धर्मशास्त्र ही उसे बांधने वाली रस्सी है।

Bhagwat Geeta Quotes in Hindi with Images

Bhagavad Gita Quotes in Hindi
Bhagavad Gita Quotes in Hindi
Bhagavad Gita Quotes in Hindi
Bhagavad Gita Quotes in Hindi
Bhagavad Gita Quotes in Hindi

महाभारत कोट्स | Mahabharat Quotes Hindi

यदि अपने पास धन इकट्ठा हो जाए, तो वह पाले हुए शत्रु के समान है

क्योंकि उसे छोड़ना भी कठिन हो जाता है।


सत्य ही धर्म, तप और योग है। सत्य ही

सनातन ब्रह्मा है,

सत्य को ही परम यज्ञ कहा गया है तथा

सब कुछ सत्य पर ही टिका है।

सत्पुरुष दूसरों के उपकारों को ही याद रखते हैं,

उनके द्वारा किए हुए बैर को नहीं।


मन में संतोष होना स्वर्ग की प्राप्ति से भी बढ़कर है,

संतोष ही सबसे बड़ा सुख है।

संतोष यदि मन में भली-भांति प्रतिष्ठित हो जाए तो

उससे बड़कर संसार में कुछ भी नहीं है।


गहरे जल से भरी हुई नदियां समुद्र में मिल जाती हैं परंतु

जैसे उनके जल से समुद्र तृप्त नहीं होता,

उस प्रकार चाहे जितना धन प्राप्त हो जाए,

पर लोभी तृप्त नहीं होता।

ज्ञानरूप, जानने योग्य और ज्ञान से प्राप्त होने वाला परमात्मा

सबके हृदय में विराजमान है।

क्षमा धर्म है, क्षमा यज्ञ है, क्षमा वेद है और क्षमा शास्त्र है।

जो इस प्रकार जानता है,

वह सब कुछ क्षमा करने योग्य हो जाता है।

THANKYOU !

मित्रों ! ये पोस्ट आपको कैसा लगा हमें जरुर बताएं साथ ही आप इस तरह के UPSC Motivational Quotes in Hindi for IAS, IPS, IFS, and IRS पर हमारे Website में किसी भी समय आकर प्राप्त कर सकते हैं।

कृपया आप भी अपने विचार हमें Share करे ! आप Comment में जरुर लिखे।

इन्हें भी पढ़े:

Leave a Reply

Your email address will not be published.